Category Archives: Sanatan Dharm

विश्व विज्ञान में सनातन धर्म का योगदान

प्राचीन भारत मानव संस्कृति, विज्ञान और चिंतन के क्षेत्र में अत्यंत विकसित था। जिस समय विश्व में अन्यत्र संस्कृति का बीज भी उत्पन्न नहीं हुआ था, उस समय भारत की संस्कृति अत्यंत विकसित थी। हमारे पूर्वजों ने आध्यात्मिक और वैज्ञानिक क्षेत्रों में अनेक प्रकार के चिंतन किए और विज्ञान के कई अद्भुत रहस्यों से पर्दा […]

श्री राम स्तुति: अर्थ सहित

ऐसी मान्यता है कि भगवान श्रीराम का नाम लेने मात्र से ही जन्म-जन्मांतर के पाप धुल जाते हैं। अपने अराध्य भगवान श्रीराम की वंदना हेतु कई ऋषियों ने कई स्तुतियां, मंत्र, आरती आदि की रचना की है। एक ऐसी ही स्तुति का वर्णन गोस्वामी श्री तुलसीदासजी द्वारा रचित रामचरितमानस के अरण्यकाण्ड में है। श्री राम […]

आयुर्वेद – प्राकृतिक चिकित्सा का शाश्वत विज्ञान

आयुर्वेद के ज्ञान का उदभव इस दुनिया की उत्पत्ति के साथ हुआ, इसलिए इसे प्राकृतिक जीवन का शाश्वत ज्ञान माना जाता है। आयुर्वेद दुनिया की सबसे प्राचीन चिकित्सा प्रणालियों में से एक है। आयुर्वेद के सिद्धांत और जड़ी बूटियों को सर्वप्रथम वर्णन ऋग्वेद में किया गया है। आयु का अर्थ है जीवन, जो गर्भाधान से […]

अगस्त्य संहिता में इलेक्ट्रिक बैटरी बनाने की विधि का वर्णन

हमारे प्राचीन शात्र – अगस्त्य संहिता में इलेक्ट्रिक बैटरी बनाने की विधि का वर्णन किया गया है, और उससे पानी को ऑक्सीजन और हाइड्रोजन में विभाजित किया जा सकता है। आधुनिक बैटरी सेल, बिजली पैदा करने की अगस्त्य विधि से मिलता जुलता है। बिजली पैदा करने के लिए, ऋषि अगस्त्य ने निम्नलिखित सामग्री का उपयोग […]

वैदिक शास्त्रों में ब्रह्मांड विज्ञान

हमारे वैदिक शास्त्रों में  ब्रह्मांड विज्ञान का विस्तृत उल्लेख है जिसे आज की आधुनिक वैज्ञानिक खोजों और बहुत बड़े-बड़े वैज्ञानिकों और लेखकों ने प्रमाणित किया है।  विश्वविख्यात वैज्ञानिक – कॉर्ल सगन और काउंट मॉरिस मैटरलिंक ने प्रमाणित किया है कि वेदों में निहित ब्रह्मांड विज्ञान, आधुनिक वैज्ञानिक परीक्षणों और  गणनाओं के बेहद समीप है। कार्ल […]

भविष्य पुराण और इस्लाम – एक झूठ का भांडाफोड़

भविष्य पुराण में इस्लाम का ज़िक्र हिन्दुओ को बेवकूफ बनाने के लिए और उन्हें गुमराह करने के लिए कई मुसलमान ये दावे करते हैं की हिन्दू धर्म ग्रंथो में इस्लाम और मुहम्मद का ज़िक्र हैं । शायद उन्होंने खुद कभी हिन्दू धर्म के ग्रन्थ नहीं पड़े वर्ना ऐसा दावा करने से पहले वे कई बार […]

Controversy on the Historical discourse between Guru Nanak, Gorakhnath and Kabir

Congress is runing a propaganda that Prime mInister Modi made a gaffe in his recent speech citing a discourse between Kabir, Gurunanak and Gorakhnath. There are plenty of historical evidences that Kabir, Guru Nanak and Gorakhnath were contemporary. In Sikh literature, there are mentions of such instances many times. Congress don’t realize their brilliant discovery […]

भविष्य पुराण और मोहम्मद

कुछ हठधर्मी मुसलमान बार-बार यह दावा करते हैं कि भविष्य पुराण में उनके मोहम्मद का जिक्र है। पर बेवकूफ यह नहीं जानते की जिक्र किस रूप में है । आइए आपको बताते हैं। भविष्य पुराण पर्व 3, खंड 3, अध्याय 3 और मंत्र 5 से 8 तक इस बारे में उल्लेख मिलता है। भविष्य पुराण, […]

वेद, वेदांत और सनातन धर्म

यदि आप सनातन धर्म के बारे में जानने के इक्क्षुक हैं तो आपको सनातन धर्म के धार्मिक साहित्य की जानकारी होना बहुत आवश्यक है। आइये सनातन धर्म के साहित्य और ग्रंथो को जानने और समझने का प्रयत्न करें । सनातन धर्म कि कई पवित्र ग्रन्थ है जिन्हे दो भागो में बांटा गया है – श्रुति […]

परम सत्य!

बाइबिल में जीसस क्राइस्ट ने कहा कि वे भगवान के पुत्र है। इस्लाम के पैगंबर मोहम्मद ने कहा कि वे भगवान के संदेश वाहक हैं। बाइबिल और कुरान भगवान के रूप में स्पष्ट रूप से कुछ नहीं बता पाते। तो कौन है ये भगवान जिसका बेटा जीसस अपने आप को कहते हैं और मोहम्मद अपने […]