गाजियाबाद फेक हेट वीडियो केस: समाजवादी पार्टी पार्टी का नेता उम्मेद पहलवान दिल्ली में गिरफ्तार

फर्जी हेट वीडियो मामले में गाजियाबाद पुलिस ने समाजवादी पार्टी के नेता उम्मेद पहलवान को आज गिरफ्तार कर लिया है, उसके खिलाफ़ कल ही प्राथमिकी दर्ज कि गयी थी। यूपी पुलिस के अनुसार, सपा नेता को शनिवार को दिल्ली में एलएनजेपी अस्पताल के पास के एक इलाके से क्राइम ब्रांच और गाजियाबाद पुलिस ने एक संयुक्त अभियान में गिरफ्तार किया था। उम्मेद पहलवान को फिलहाल गाजियाबाद ले जाया जा रहा है।

एसएसपी गाजियाबाद अमित पाठक ने कहा  – ‘प्रारंभिक जानकारी के अनुसार उम्मेद पहलवान  को एलएनजेपी अस्पताल, दिल्ली से गिरफ्तार गया था। उन पर पहले भ्रामक सूचना फैलाने का मामला दर्ज किया गया था। उम्मेद पहलवान को गाजियाबाद लाया जाएगा और फिर पूछताछ की जाएगी। इस मामले में अब तक 9 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है, यह गाजियाबाद और क्राइम ब्रांच का संयुक्त अभियान था, ”।

 

15 जून को, उत्तर प्रदेश में एक बुजुर्ग व्यक्ति के साथ मारपीट के एक वीडियो पर कई समाचार मीडिया आउटलेट्स और ट्विटर  हैंडल द्वारा सांप्रदायिक प्रोपेगेंडा के प्रचार के बाद ट्विटर पर एक विवाद छिड़ गया। वायरल  वीडियो में कोई आवाज नहीं थी, उसमें एक बुजुर्ग व्यक्ति अब्दुल समद सैफी के साथ मारपीट करते हुए और उसकी दाढ़ी को अज्ञात व्यक्तियों द्वारा जबरन काटते  हुए दिखाया गया था। समाचार प्रकाशनों ने दावा करना शुरू कर दिया कि उस व्यक्ति पर बदमाशों ने हमला किया था, जिन्होंने कथित तौर पर उसे जय श्री राम और वंदे मातरम के नारे लगाने के लिए मजबूर किया था।

 

बाद में, जांच से पता चला कि कुछ व्यक्तियों के लिए अब्दुल समद द्वारा बनाए गए ‘ताबीज’  का सकारात्मक परिणाम नहीं आने के बाद उसके अपने समुदाय के लोगों ने उस पर हमला किया था। कई प्रकाशनों द्वारा इस घटना को सांप्रदायिक रंग देने के बाद, यूपी पुलिस ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर राज्य के खिलाफ ‘आपराधिक साजिश’ को सक्षम करने का आरोप लगाते हुए गाजियाबाद फर्जी हेट वीडियो मामले पर ट्विटर, ट्विटर इंडिया और 7 अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *