शेरू खान उर्फ शाहरुख ने बीच बाजार नैना कौर को 10 बार चाकू मार की हत्या

पिछले बुधवार, 17 जून 2020 को गाजियाबाद के तुलसी निकेतन में नैना कौर को शेरू खान उर्फ शाहरुख ने बीच बाजार में 10 बार चाकू से गोद – गोद कर कत्ल कर दिया। नैना कौर को कत्ल करने के बाद शेरू खान अपने दोस्तों के साथ चाकू लहराता हुआ दिल्ली वजीराबाद रोड की तरफ भाग गया। नैना कौर को दिल्ली के एक अस्पताल ले जाया गया जहां बृहस्पतिवार, 18 जून 2020  की सुबह उसकी मृत्यु हो गई, 22 जून को उसकी इंदौर में शादी होनी थी।

पुलिस ने शेरू खान के 2 साथी आसिफ और आमिर चौधरी को गिरफ्तार कर लिया है जबकि शेरू खान अभी भी फरार है।

मृतक नैना कौर के परिवार ने बताया की शेरू खान नैना कौर के साथ ही दिल्ली के दुर्गापुरी में एक कंप्यूटर सेंटर में पढ़ाई करता था और शेरू खान अक्सर उनकी बेटी को परेशान करता था और शादी करने के लिए दबाव बनाता था। एक हफ्ते पहले ही वह उनके घर पर आकर नैना को धमकी देकर गया था।

मृतक नैना कौर के पिता ने बताया कि जब बीच बाजार में शेरू खान ने उनकी बेटी पर हमला किया तो वहां काफी लोग मौजूद थे, पर उनकी मदद के लिए कोई भी आगे नहीं आया। लोगों में इस प्रकार की संवेदनहीनता बेहद निराशाजनक है। लोगों को यह समझना चाहिए कि यदि आज किसी के साथ इस प्रकार की घटना हो रही है और वे मूकदर्शक बने देख रहे हैं तो कल यह उनके साथ भी हो सकता है। इस प्रकार की घटनाओं में प्राय ऐसा देखने में आया है कि भीड़भाड़ वाले इलाकों में भी ऐसी घटनाएं अंजाम देकर अपराधी भाग निकलते हैं और लोग केवल मूकदर्शक बने देखते रहते हैं। यदि लोगों मूकदर्शक बनने की बजाय साहस करके ऐसे अपराधियों को रोकें तो ऐसे अपराध होना काफी हद तक कम हो जाएंगे।

 नैना कौर के पिता बलदेव सिंह ने मीडिया को बताया कि जब नैना  कौर गाजियाबाद के टीला मोड़ थाना क्षेत्र मे अपने घर लौट रही थी तभी तीन लोग बाइक  पर आए और नैना का हाथ खींच लिया। उन 3 लोगों में से एक ने अपने चेहरे को नकाब से ढक रखा था। जब नैना की मां ने इसका विरोध किया तो अपराधियों ने उनको धक्का देकर नीचे गिरा दिया।  नैना कौर के पिता बलदेव सिंह के अनुसार उन लोगों ने उन्हें रोक लिया और उनकी पत्नी और बेटी तक पहुंचने नहीं दिया। नैना कौर ने जब अपनी मां को सड़क पर गिरे देखा तो वह उठी और उसने आरोपित को थप्पड़ मारे, पर अचानक आरोपित ने चाकू से नैना पर हमला कर दिया, पहले उसकी गर्दन पर वार किया फिर पेट और शरीर के अन्य हिस्सों पर वार किया। हाथापाई के दौरान नैना की माँ ने आरोपी का नकाब फाड़ दिया, जिससे मुख्य आरोपी की पहचान दिल्ली के सुंदर नगरी के निवासी शेरू खान उर्फ शाहरुख के रूप में हुई है ।

 पुलिस ने शाहरुख पर ₹20000 का इनाम घोषित किया है और उसे पकड़ने के लिए दो टीमें लगाई गई हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *