ननकाना साहिब पर हमला, पेशावर में सिख युवक की हत्या

शुक्रवार, 3 जनवरी को पाकिस्तान में ननकाना साहिब गुरुद्वारा, जो कि सिखों का एक पवित्र धर्मस्थल है, वहां पर मुस्लिम भीड़ ने पत्थरबाजी की। मुस्लिम भीड़ ने सिखों के साथ मारपीट की और गुरुद्वारे को तोड़ वहां पर मस्जिद बनाने की धमकियां दी।

मुस्लिम भीड़ को उकसाने वाला राणा मंसूर, मोहम्मद हसन का रिश्तेदार है। मोहम्मद हसन ने ही पिछले वर्ष ज्ञानी भगवान सिंह की बेटी जगजीत कौर का अपहरण कर उसका धर्मांतरण करवाया था। शुक्रवार को नमाज के बाद जब मुस्लिम समुदाय के लोग जब अपने घर लौट रहे थे तब उन्हें राणा मंसूर ने भड़काया, मुस्लिम भीड़ ने ननकाना साहिब के मुख्य बाजार में धरना दिया और ननकाना साहिब के गेट पर पत्थरबाजी की।

इस घटना के कई विडियो सामने आए हैं। वीडियो में दंगाई यह कहते हुए नज़र आ रहे हैं कि वे ननकाना साहिब में एक भी सिख को नहीं रहने देंगे और गुरुद्वारे का नाम बदलकर गुलाम-ए-मुस्तफा कर देंगे।

पाकिस्तान में ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर हुए हमले पर विवाद अभी जारी है, और इसी बीच पाकिस्तानी मीडिया में खबर चल रही है कि पेशावर में एक अज्ञात शख्स ने सिख युवक रविंद्र सिंह की हत्या कर दी है। रविंद्र सिंह मलेशिया में रहता था और अपनी शादी के लिए पेशावर आया था।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *