पश्चिम बंगाल – आरएसएस कार्यकर्ता, उसकी गर्भवती पत्नी और 8 साल के बेटे की मुर्शिदाबाद में बेरहमी से हत्या

मंगलवार दोपहर को पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में 35 वर्षीय आरएसएस कार्यकर्ता बंधु प्रकाश पाल, उनकी पत्नी ब्यूटी पाल (30) और उनके आठ वर्षीय बेटे अंगन पाल की उनके आवास पर निर्मम हत्या कर दी गई। बंधु प्रकाश पाल की पत्नी ब्यूटी पाल आठ महीने की गर्भवती थी।  बंधु प्रकाश एक स्कूल शिक्षक थे, वे गोसाईग्राम सहपरा प्राथमिक विद्यालय में काम करते थे। उन्होंने इलाके में बीमा एजेंट के रूप में भी काम किया था।
पुलिस अधिकारियों के अनुसार, मंगलवार को अज्ञात बदमाशों द्वारा पाल परिवार की हत्या कर दी गई थी। जब बंधु प्रकाश पाल का परिवार विजयदशमी पर दुर्गा पूजा पंडाल में नहीं पहुँचा, तब पड़ोसियों ने बंधु प्रकाश पाल के निवास का दौरा किया, तो उन्होने पाया कि दरवाजा अंदर से बंद था।
पाल के घर से तेज आवाजें सुनने के बाद पड़ोसियों में से एक ने पुलिस को सूचित किया। एक पड़ोसी ने यह भी बताया कि कुछ लोगों को घर से बाहर निकलते देखा गया था। पाल को उनके पड़ोसियों ने आखिरी बार मंगलवार सुबह करीब 11 बजे देखा था जब वह स्थानीय बाजार से लौट रहे थे।
जब पड़ोसियों ने पाल के घर में प्रवेश किया तो बंधु प्रकाश और उनके बेटे अंगन का शव फर्श पर मिला, जबकि पत्नी का शव दूसरे कमरे में पड़ा था। शवों के बगल में एक धारदार हथियार पाया गया था।
पुलिस ने कहा है कि  बंधु प्रकाश पाल और उसकी पत्नी की धारदार हथियार से हत्या की गई थी, और उनके बेटे अंगन को एक तौलिया से गला घोंट दिया गया था।
एसी सम्भावनाएं जताई जा रहीं हैं कि आरएसएस कार्यकर्ता और उनके परिवार की हत्या का एक सांप्रदायिक हिंसा है क्योंकि मुर्शिदाबाद में पहले भी ऐसे कई मामले हुए हैं, लेकिन मामले में अभी तक ऐसा कोई कोण नहीं बताया गया है। पुलिस ने कहा है कि जांच चल रही है।
हालांकि, पुलिस अधिकारियों ने अभी तक परिवार की नृशंस हत्या के कारण का पता नहीं लगाया है। उनके शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। परिवार लगभग छह साल पहले जियागंज आया था। वे कांजीगंज-लेबुतला में एक एकल मंजिला घर में रहते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *