नाबालिग बेटी के अपहरण पर पुलिस में शिकायत दर्ज कराने पर पिता को मुस्लिम युवकों ने पीटकर मार डाला

यूपी के मुरादाबाद जिले के पीपली उमरपुर गांव की रहने वाली 15 वर्षीय लड़की 18 जून की रात गायब हो गई। उसके 54 वर्षीय पिता गंगाराम ने अगले दिन स्थानीय पुलिस से संपर्क किया और गाँव के एक मुस्लिम युवक और उसके साथियों पर अपनी बेटी को बहला फुसला कर भगा ले जाने का आरोप लगाया। लेकिन पुलिस ने उसकी शिकायत दर्ज नहीं की और न ही उन्होंने लड़की को ढूढंने की कोशिश की।

 

जब मामला पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों के सामने आया तब बुधवार को 4 मुस्लिम आरोपियों के खिलाफ लड़की के अपहरण की प्राथमिकी दर्ज की गई।

अपनी नाबालिग बेटी के अपहरण की पुलिस में शिकायत दर्ज कराने के बाद, 54 वर्षीय गंगाराम को बुधवार की रात मौत के घाट उतार दिया गया। आरोपियों को उनके खिलाफ दर्ज की गई पुलिस शिकायत के बारे में पता चला तो उसी रात, उन्होंने गंगाराम पर उसके घर में हमला किया। लाठियों से उन्होंने गंगाराम और उनके परिवार के सदस्यों की बेरहमी से पिटाई की और उन्हें गंभीर चोटें पहुंचाईं। गंगाराम को अस्पताल ले जाया गया लेकिन वहां पहुंचने पर मृत घोषित कर दिया गया। पोस्टमार्टम के बाद, ग्रामीणों ने गंगाराम का शव लाया और एक व्यस्त सड़क को जाम कर दिया।

हिंदू रक्षा दल ने भी मौके पर पहुंच कर विरोध जताया। अधिकारियों और स्थानीय विधायक ने भीड़ को शांत किया और पुलिस ने अब 4 आरोपियों – सफायत और उनके बेटों दानिश और छोटू और एक अन्य व्यक्ति अकरम को गिरफ्तार किया है। लड़की को अगवा करने के आरोप में एक और युवक नादिम को गिरफ्तार कर लिया गया है और लड़की अब ढूढं ली गयी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *