दिल्ली में कांग्रेस और आप का गठबंधन लगभग तय

सूत्रों के हवाले से खबर आई है कि दिल्ली में पिछले कई घंटों से शीला दीक्षित के घर पर कांग्रेस और आप पार्टी के नेताओं की बैठक चल रही है । आप पार्टी और कांग्रेस का गठबंधन दिल्ली में लगभग तय हो चुका है, उसका औपचारिक ऐलान बाकी है। सीटों के बंटवारे को लेकर बातचीत चल रही है।

कहा जाता है राजनीति में कोई स्थाई शत्रु नहीं होता और इस बात को अरविंद केजरीवाल ने फिर एक बात सच साबित कर दिया है। अरविंद केजरीवाल ने इंडिया अगेंस्ट करप्शन मूवमेंट कांग्रेस के खिलाफ ही शुरू किया था और उसी मूवमेंट से आप पार्टी निकली। उस समय अरविंद केजरीवाल कांग्रेस को सबसे भ्रष्ट पार्टी बताया करते थे और उनके कई नेताओं के खिलाफ अपने पास सबूत होने का दावा किया करते थे। केजरीवाल दावा किया करते थे कि उनके पास कांग्रेस के भ्रष्ट नेताओं के खिलाफ सबूतों की एक फाइल है। केजरीवाल ने शीला दीक्षित के ऊपर भी भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे और कहा था कि उनके खिलाफ उनके पास सबूतों की एक फाइल है परंतु आज ऐसा लगता है कि केजरीवाल की वह फाइल कहीं खो गई है।

केजरीवाल ने राजनीति में एक बदलाव लाने की उम्मीद जगाई थी जनमानस में, परंतु एक तरह से देखा जाए तो उन्होंने जनमानस को ठग लिया। मोदी विरोध में सभी भ्रष्ट पार्टियां गले मिल रहीं हैं, अब निर्णय देश की जनता को करना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *