जैश के ठिकाने तबाह कर भारतीय वायुसेना ने लिया पुलवामा का बदला


14 फरवरी 2019 को कश्मीर के पुलवामा में जैश ए मोहम्मद के एक फिदायीन आतंकवादी ने सीआरपीएफ एक कारवां पर हमला कर हमारे 40 सीआरपीएफ के जवानों को मार दिया था। और इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान में स्थित आतंकी संगठन जैश ऐ मोहम्मद ने ली थी।

यद्यपि भारतीय सुरक्षा बलों ने अगले 100 घंटे के अंदर ही इस हमले को अंजाम देने वाले जैश मोहम्मद के कमांडर – गाजी़ कामरान और कुछ अन्य आतंकवादियों को कश्मीर घाटी में मार गिराया था। पर पूरे देश में रोष बढ़ता ही जा रहा था और बार-बार पाकिस्तान को सबक सिखाने और बड़ी कार्रवाई करने की मांग की जा रही थी । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कड़े शब्दों में कह दिया था कि पाकिस्तान को कड़ा सबक सिखाया जाएगा। इस संदर्भ में भारत ने पहले तो पाकिस्तान से निर्यात पर 200% कस्टम ड्यूटी लगा दी और फिर पाकिस्तान में जाने वाले नदियों के पानी को भी रोकने के आदेश दे दिए। इसके बाद भारतीय सरकार को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक बड़ी सफलता प्राप्त हुई, जब यूनाइटेड नेशंस के सिक्योरिटी काउंसिल ने भारत में हुए सीआरपीएफ के जवानों पर हमले की निंदा करते हुए भारत के पक्ष में एक प्रस्ताव पास किया जिस पर चीन को भी हस्ताक्षर करने पड़े।

पुलवामा में हुए आतंकी हमले के ठीक 12 दिन बाद कल सुबह तड़के 3:30 बजे भारतीय  वायुसेना ने पाकिस्तान के अंदर घुसकर आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद के 3 ठिकानों पर बम गिराए। पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर से भी 65 किलोमीटर अंदर बालाकोट स्थित जैश के 1 बड़े ट्रेनिंग कैंप, जो कि एक कंट्रोल रूम भी था, पर भारतीय वायुसेना के विमानों ने 1000 किलो से ज्यादा के 6 बम गिराए। भारतीय वायु सेना ने मंगलवार की सुबह 3:30 बजे यह  ऑपरेशन शुरू किया और 21 मिनट में इसे पूरा कर सभी भारतीय विमान सुरक्षित लौट आए। रक्षा सूत्रों के अनुसार भारतीय वायुसेना ने इस कार्रवाई में  350 से अधिक आतंकवादी और उनके कमांडर मार दिए हैं। इस कार्रवाई में जैश का कमांडर मौलाना युसूफ अजहर भी मारा गया है।

पाकिस्तानी सरकार और पाकिस्तानी सेना इस हमले के बाद बौखलाए  हुए हैं। पाकिस्तान के रक्षा मंत्री परवेज खटक ने बढ़ा ही हास्यापद बयान दिया है। उन्होंने कहा की अंधेरा ज्यादा था और हमें पता ही नहीं चल पाया। भारतीय विमान आए और बम गिरा कर चले गए और हम इंतजार करते रहे। अब पूरी ऐहतियात बरती जाएगी।

इस हमले के बाद पाकिस्तानी सरकार और सेना काफी कंफ्यूज नजर आ रहे हैं उन्हें समझ में नहीं आ रहा कि इस हमले को कबूलें  या हमेशा की तरह नकार दें। और इसी कोशिश में उनकी तरफ से बार-बार हास्यापद बयान आ रहे हैं।

भारतीय विमानों के सीमा पार करते ही पाकिस्तान को इसकी जानकारी हो गई थी और इसके बाद पाकिस्तानी एयर फोर्स ने फाइटर जेट F 16 को भारतीय जहाजों के खिलाफ जवाबी कार्रवाई के लिए उतारा, लेकिन भारतीय मिराज फाइटर जेट्स कि ग्रुप फॉरमेशन के कारण पाकिस्तान के विमान बिना किसी जवाबी कार्रवाई के वापिस भाग गए। इसके बाद पाकिस्तान के ISPR मेजर जनरल आसिफ गफूर ने बड़ा ही हास्यापद बयान दिया कि उन्हें कुछ करने का टाइम ही नहीं मिल पाया।

फिलहाल पाकिस्तानी मीडिया एक बार फिर बड़ी बेशर्मी के साथ लीपापोती में लगी है।

 

4 thoughts on “जैश के ठिकाने तबाह कर भारतीय वायुसेना ने लिया पुलवामा का बदला

  1. gamefly says:

    Sweet blog! I found it while searching on Yahoo
    News. Do you have any suggestions on how to get listed in Yahoo News?
    I’ve been trying for a while but I never seem to get there!
    Many thanks

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *